नेपाल में आयोजित होने जा रहा है पहला अंतराष्ट्रीय आयुर्वेद कान्फ़्रेन्स एवम कार्यशाला

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmailby feather

-यह पहला अवसर है जब भारत और नेपाल के आयुर्वेद विशेषज्ञ दो दिनों तक आयुर्वेद विषय पर मंथन करेंगे।आयुष दर्पण फाउंडेशन ट्रस्ट,विश्व आयुर्वेद परिषद की नेपाल इकाई एवं पतंजलि आयुर्वेद मेडिकल कालेज एवं रिसर्च सेंटर के संयुक्त प्रयास से नेपाल में एक बड़े अंतरर्राष्ट्रीय स्तर के आयुर्वेद  कान्फ्रेन्स एवं वर्कशाप का आयोजन होने जा रहा है।यह कार्यक्रम भारत एवं नेपाल के बीच  1978 में हुई एल्मा अता संधि के तहत सस्ती सुलभ एवं वैकल्पिक चिकित्सा प्रदान करने के उद्देश्य से मिलकर काम करने की योजना को आगे बढ़ाएगा।कार्यक्रम में भारत सहित नेपाल में स्थित दुनिया के देशों के डिप्लोमेट्स,श्रीलंका एवं भूटान सहित कई देशों से प्रतिभागियों के शामिल होने की संभावना है।कार्यक्रम के लिये कावरे स्थित पतंजलि आयुर्वेद मेडिकल कालेज एन्ड रिसर्च सेंटर में व्यापक व्यवस्था की गई है।कार्यक्रम के चेयरमेन ,नेपाल स्थित पतंजलि आयुर्वेद मेडिकल कालेज के प्राचार्य डॉ रामचन्द्र अधिकारी के अनुसार इस कार्यक्रम में नेपाल से लगभग 200 चिकित्सक शामिल होंगे।कांफ्रेंस में 4 वैज्ञानिक सत्र सहित प्रायोगिक कार्यशालाएं आयोजित की जाएंगी।कार्यक्रम के उद्घाटन सत्र में मुख्त अतिथि  नेपाल के स्वास्थ्य मंत्री डॉ  सुरेंद्र कुमार यादव तथा विशिष्ट अतिथि नेपाल के सर्वोच्च अदालत के पूर्व प्रधान न्यायाधीश श्री के पी उपाध्याय होंगे।कार्यक्रम में भारत के केरल सहित गुजरात,छत्तीसगढ़,उड़ीसा,राजस्थान,महाराष्ट,उत्तरप्रदेश एवं उत्तराखंड से 50 से अधिक प्रतिभागियों के शामिल होने की संभावना है।कार्यक्रम के मुख्य कोऑर्डिनेटर डॉ नवीन जोशी तथा डॉ सुमन खनाल ने बताया कि कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य वैदिक चिकित्सा पद्धति के लाभ से लोगो को अवगत कराना है साथ ही दोनों देशों के बिशेषज्ञों के बीच एक पैनल डिस्कशन कर आगे के लिये एक रोडमेप तैयार करना है।इस कार्यक्रम को नेपाल के राष्ट्रीय आयुर्वेद रिसर्च ट्रेनिंग सेंटर,सिंह दरबार वैद्यखाना, एनएएसएस तथा धूतपापेश्वर,सांडू, झण्डू,एमिल जैसी भारतीय कंपनियों के सहयोग से आयोजित किया जा रहा है।कार्यक्रम में मर्म चिकित्सा के विद्वान चिकित्सक प्रोफेसर सुनील जोशी द्वारा एक निःशुल्क मर्म चिकित्सा शिविर भी आयोजित किया जाएगा।कार्यक्रम में नेपाल के विशेषज्ञ डॉ आर.आर.कोइराला ,भारत से डॉ उदय कुलकर्णी,डॉ विजय जाधव,डॉ अंजलि जाधब,डॉ धर्मेश अचाले ,डॉ एच एन डे, डॉ उदय पांडे,डॉ स्वस्तिक जैन,डॉ अजय श्रीवास्तव,डॉ पी के गुप्ता, श्री मनीष उप्रेती,श्री के बी सिंघानिया,डॉ सुशील डिमरी,डॉ अजय श्रीवास्तव,डॉ दीप पांडे,डॉ जी बी शर्मा,डॉ जे एन नौटियाल,डॉ अभिषेक तिवारी आदि वर्कशाप में विशेषज्ञ/ट्रेनर के रुप शामिल होंगे । 

Facebooktwittergoogle_plusrssyoutubeby feather
Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedinmailby feather
About Dr Navin Joshi 136 Articles
डॉ नवीन जोशी एक प्रख्यात आयुर्वेद विशेषज्ञ है जिन्हें आयुष दर्पण पत्रिका एवं आयुष दर्पण फाउंडेशन के संस्थापक के रूप में जाना जाता है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*