आयुष दर्पण

स्वास्थ्य पत्रिका ayushdarpan.com

स्वास्थ्य

1 min read

आज पुरी दुनिया स्वास्थ्य संरक्षण के प्रति जागरूक होती जा रही है “हेल्थ एवं वैलनेस” पर पूरी दुनिया का रुझान देखने...

आयुष दर्पण फाउंडेशन, विश्व आयुर्वेद परिषद नेपाल एवं पतंजलि आयुर्वेद मेडिकल कालेज के संयुक्त तत्वाधान में नेपाल में पहली आयुर्वेद...

-यह पहला अवसर है जब भारत और नेपाल के आयुर्वेद विशेषज्ञ दो दिनों तक आयुर्वेद विषय पर मंथन करेंगे।आयुष दर्पण...

1 min read

पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता एक बार फिर आयुष दर्पण फाउंडेशन ट्रस्ट इंडिया द्वारा आयोजित होने वाले चौथे अंतरराष्ट्रीय सेमिनार...

1 min read

वैद्य बालेन्दु प्रकाश का नाम आयुर्वेद के उन चुनिंदा वैद्यो में है जिन्होंने आयुर्वेद की प्राचीन परम्परा को अपने पिता...

कोलकाता में आयोजित होनेवाले चौथे अंतरराष्ट्रीय सेमिनार में प्रतिभागियों को मर्म कला की कराली  टेक्निक से भी रूबरू कराया जाएगा।22...

आयुष दर्पण स्वास्थ्य पत्रिका एवं फाउंडेशन द्वारा चौथा अंतरराष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन " भारत और नेपाल के मध्य पर्यटन की...

उज्जैन ।आयुर्वेद की चिकित्सा पद्धति से दमा के मरीजों को हो रहे लाभ को यदि साक्षात देखना हो तो आप...

1 min read 5

ग्रामीण क्षेत्रो में आयुष चिकित्सा पद्धतियों के प्रचलन का इतिहास बहुत पुराना रहा है ,जब आधुनिक चिकित्सा पद्धति अपने शैशव...

1 min read 2

आधुनिक शोध एवं आयुर्वेद के सूत्र: वर्तमान समय मे चिकित्सा विज्ञान के क्षेत्र में प्राप्त शोधों पर गौर करें जिन्होंने...

1 min read 3

आज की भागदौड़ भरी जीवनशैली और खानपान में हम जहां रेडीमेड,प्रोसेस्ड और फास्टफूड के आदि होते जा रहे हैं वहीं...

1 min read

(गतांक से आगे.........). 'स्वाधिस्ठान चक्र ' के अल्प सक्रिय होने के लक्षण-इंसेंसिटिव होना,सेक्सुअल क्रियाशिलता में कमी होना,अपनी भावनाओं को व्यक्त...

1 min read 3

आयुर्वेद शास्त्र में लंघन के उपक्रमों में उपवास एवं व्यायाम को प्रमुख माना गया है लंघन के विभिन्न उपक्रमों को...

1 min read 2

3 सूर्य नमस्कार एक श्रेष्ठ योगाभ्यास् है जो साधक को सम्पूर्ण शारीरिक एवं मानसिक लाभ पहुंचाता है।कहा गया है बच्चों,युवा तथा...

इजरायली प्रधनानमंत्री बेंजामिन नेतेन्याहू के भारत दौरे के दौरान हुए एमओयू में एक समझौता आयुष के क्षेत्र में भी हुआ,इस...

1 min read 2

यूं तो हिमालयी क्षेत्र कैंसर को रोकने वाली अनेक वनस्पतियों का खजाना है । लद्दाख की नुब्रा घाटी भारतीय हिमालयी...

1 min read

वैज्ञानिकों ने डायबिटीज को नियंत्रित करने के लिए एक नई विधि विकसित की है। मकड़ी के जाल से प्रेरित इस...

1 min read

सर्वाइकल कैंसर से पीड़ित महिलाओं की संख्या तेजी से बढ़ रही है। इसमें गर्भाशय में कोशिकाओं की अनियमित वृद्धि होने...

कोलकाता ।प्रख्यात मर्म चिकित्सा विशेषज्ञ प्रोफेसर सुनील जोशी से मर्म चिकित्सा सीखना एक अनूठा अनुभव रहा है।कोलकाता में आयुष दर्पण...

मानसिक रूप से रहना है स्वस्थ तो शहरों नही जंगलों के समीप प्राकृतिक वातवरण में रहना शुरू कीजिये! शहरीकरण की...

1 min read 4

  नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को दूसरे आयुर्वेद दिवस के मौके पर देश के पहले अखिल भारतीय आयुर्वेद...

1 min read

अंतर्राष्ट्रीय  योग दिवस को मनाने की तैयारीयां उत्तराखंड में भी जोरों पर है I 21 जून 2017 को अंतर्राष्ट्रीय योग...

1 min read

इंग्लैंड से प्रकाशित एक जर्नल का एक सन्दर्भ आपके समक्ष प्रस्तुत करना चाहता हूँ जिसमे कहा गया है कि चिकित्सा...

यूँ तो आयुर्वेद की कई विधायें अपने चमत्कारिक प्रभावो के लिये दुनिया का ध्यान अपनी ओर खींच रही है।उनमें से...

1 min read 7

आपने आसपास जंगली पौधे के रूप में इस वनस्पति को काफी देखा होगा। ।आर्टीमिसीया नामकी इस वनस्पति  वर्ष 2015 में...

1 min read

नेत्र यानि आँखें हमारी सुंदरता के साथ प्रकृति प्रदत्त ज्ञानेंद्रिय भी है जिसका स्वस्थ रहना नितांत आवश्यक है।आपने अब तक...

1 min read 3

आयुर्वेदिक चिकित्सा और पंचकर्म चिकित्सा के बारे में लोगों सहित चिकित्सकों को जागरूक करने के उद्देश्य से मैंने ये सीरीज...

1 min read

मैं आपको पंचकर्म चिकित्सा की जानकारी जनसामान्य के हित के लिए देने जा रहा हूँ जिससे चिकित्सक सहित आम जनों...

1 min read 6

दुनिया क़ी चालीस प्रतिशत महिलाएं फेलोपीयन टयूब के ब्लाक होने के कारण इन्फ़र्टीलीटी से सफ़र करती हैं I इसे टयूबल...

यद्यपि प्राचीन काल एवं आयुर्वेदाचार्यों के लिए सर्जरी बिना एंटीबायटिक के सुनना कोई नई बात नही लगती है क्योंकि सुश्रुत...

1 min read

हिमालयी क्षेत्र ईश्वर प्रदत्त अनेक औषधीय वनस्पतियों का खजाना है यहां मिलने वाली विशिष्ट वनस्पतियों का उपयोग लोग सदियों से...

हिमालयी क्षेत्रों में बढ़ते पारिस्थितिजन्य दवाब के कारण एवं संरक्षण के अभाव में दुर्लभ वनस्पतियाँ अब विलुप्त होने के कगार...

1 min read

पर्वतीय क्षेत्र कहीं का भी हो कमोबेश एक प्रकार के खान-पान रहन सहन और व्यंजनों के लिए ही जाना जाता...

1 min read

पर्वतीय क्षेत्रों में भंगीरा के बीजों का भी बड़ा ही उपयोग होता रहा है।Parilla frutescens लेटिन नाम की यह वनस्पति...

1 min read

भांग के बीज भूरे और काले रंग के होते हैं इसका स्वाद तीखा और कड़वा होता है।पर्वतीय क्षेत्रों में इसके...

उत्तराखंड में औषधीय वृक्षों की कोई कमी नहीं है | औषधीय वृक्षों में एक नाम है भीमल, जिसके पेड़ काफी...

1 min read

आपने बचपन में पपाया द सेलर मैँन की कहानी जरूर देखी होगी जो पालक खाकर मजबूत बन जाता था।लेकिन आप...

Copyright © 2019 AyushDarpan.Com | All rights reserved.