आयुष दर्पण

स्वास्थ्य पत्रिका ayushdarpan.com

चिकित्सक

1 min read

हर जीवित प्राणी अपने भोजन को ऊर्जा में परिवर्तित करने हेतु आक्सीजन का उपभोग करता है यह बात सदियों से...

प्रोटीन को हम शरीर के आवश्यक तत्व के रूप में जानते हैं कोशिकाओं से लेकर डीएनए तक के निर्माण में...

हमारे देश की सनातन परंपरा हमे पशु पक्षियों सहित पेड़ पौधों तक मे ईश्वरीय चेतना के जागृत होने को संकेत...

1 min read

आयुष दर्पण के सुधि पाठकों के लिये हमने अक्सर ऐसी वनस्पतियों का उल्लेख किया जिसे आपने खर-पतवार की श्रेणी में...

1 min read

आयुर्वेद में हम त्रिदोष के 15 भेदों के बारे में विस्तार से पढ़ते हैं। तीनों दोषों को तो नाड़ी परीक्षा...

प्रदेश में आयुष को बढ़ावा देने के लिये त्रिवेंद्र सरकार द्वारा आयोजित इन्वेस्टर समिट के नतायज अब सामने आने लगे...

1 min read

पर्वतीय क्षेत्रों में पेड़ों पाए सुंदर छटा बिखेरते कोईराल या कवीराल के नाम से प्रचलित वृक्ष के फूल को अक्सर...

1 min read

आज ड़ेंगू का वायरस एक विकराल स्वरूप लेकर अपने पांव फैलाये जा रहा है क्या आपने कभी सोचा कि आज...

1 min read 2

आजकल बारिश के मौसम में जहां नित नये संक्रमण हमे अपने आगोश में लेने को तत्पर हैं ऐसे में आपके...

1 min read 2

पाठको आयुष दर्पण की वेबसाइट पर हमें आपके सैकड़ों मेल प्राप्त होते हैं सभी प्रश्नों का उत्तर देना संभव नहीं...

प्रोफेसर अभिमन्यु कुमार ने सर्वपल्ली राधाकृष्णन राजस्थान आयुर्वेद विश्विद्यालय के कुलपति का पदभार ग्रहण कर लिया।प्रोफेसर अभिमन्यु कुमार इससे पूर्व...

1 min read

प्रोफेसर सुनील जोशी बनारस हिंदू विश्वविद्यालय से सर्जरी में विशेषज्ञता हासिल करने के बाद ऋषिकुल आयुर्वेदिक महाविद्यालय तथा गुरुकुल आयुर्वेद...

1 min read

कई मर्ज की दवा है पुनर्नवा हमारे आसपास ऐसी कई वनस्पतियां हैं जिनका प्रयोग ग्रामीण अंचलों में अक्सर साग के...

1 min read

पिछले लेखों में हमने आपको आस पास पाए जाने वाले बेकार समझी जाने वाली घास जैसी वनस्पतियों के औषधीय गुण...

1 min read

जीवन में ऐसा देखा है कि हम जिन वनस्पतियों की झाड़ीयों को आपने आसपास देखते हैं उनको अक्सर महत्व नहीं...

1 min read

प्रकृति ने यदि हमें रोग दिए हैं तो रोगों से बचने के साधन भी दिए हैं। मानव ने जब से...

1 min read 2

हालांकि मेनोपॉज का डायग्नोज महावारी के 12 महीने ना होने पर किया जाता है लेकिन आप अल्ट्रासाउंड और ब्लड टेस्ट...

1 min read

वैद्य बालेन्दु प्रकाश का नाम आयुर्वेद के उन चुनिंदा वैद्यो में है जिन्होंने आयुर्वेद की प्राचीन परम्परा को अपने पिता...

1 min read

सर्वाइकल कैंसर से पीड़ित महिलाओं की संख्या तेजी से बढ़ रही है। इसमें गर्भाशय में कोशिकाओं की अनियमित वृद्धि होने...

1 min read

आयुष दर्पण फाउंडेशन एवं अंतराष्ट्रीय सहयोग परिषद के संयुक्त तत्वधान में कोलकाता स्थित भारतीय भाषा परिषद के आडीटोरियम में आयुर्वेद...

1 min read

 अंतर्राष्ट्रीय सहयोग परिषद- पश्चिम बंगाल , ARSP, आयुष  दर्पण फाउंडेशन-भारत, ADF के सहयोग से आयुर्वेद को समकालीन स्वास्थ्य चुनौतियों का समाधान करने के...

मानसिक रूप से रहना है स्वस्थ तो शहरों नही जंगलों के समीप प्राकृतिक वातवरण में रहना शुरू कीजिये! शहरीकरण की...

1 min read

  आयोजक-अंतरराष्ट्रीय सहयोग परिषद, कोलकाता एवं आयुष दर्पण फाउंडेशन  इस अंतरराष्ट्रीय कांफ्रेंस के द्वारा आयुर्वेद के चिकित्सकों के साथ देश...

1 min read

आयुर्वेद के मनीषी अश्वगंधा का प्रयोग मष्तिष्क एवं शरीर को ऊर्जा प्रदान करनेवाली वनस्पति के रूप में सदियों से जानते...

1 min read 7

आपने आसपास जंगली पौधे के रूप में इस वनस्पति को काफी देखा होगा। ।आर्टीमिसीया नामकी इस वनस्पति  वर्ष 2015 में...

1 min read 3

यूँ तो आपने हिमालयी क्षेत्र में कई दुर्लभ  वनस्पतियों के बारे में जाना होगा,पर आपने शायद ही  एक जहरीली वनस्पति...

1 min read

नेत्र यानि आँखें हमारी सुंदरता के साथ प्रकृति प्रदत्त ज्ञानेंद्रिय भी है जिसका स्वस्थ रहना नितांत आवश्यक है।आपने अब तक...

1 min read

मैं आपको पंचकर्म चिकित्सा की जानकारी जनसामान्य के हित के लिए देने जा रहा हूँ जिससे चिकित्सक सहित आम जनों...

यद्यपि प्राचीन काल एवं आयुर्वेदाचार्यों के लिए सर्जरी बिना एंटीबायटिक के सुनना कोई नई बात नही लगती है क्योंकि सुश्रुत...

1 min read

हिमालयी क्षेत्र ईश्वर प्रदत्त अनेक औषधीय वनस्पतियों का खजाना है यहां मिलने वाली विशिष्ट वनस्पतियों का उपयोग लोग सदियों से...

हिमालयी क्षेत्रों में बढ़ते पारिस्थितिजन्य दवाब के कारण एवं संरक्षण के अभाव में दुर्लभ वनस्पतियाँ अब विलुप्त होने के कगार...

1 min read

पर्वतीय क्षेत्र कहीं का भी हो कमोबेश एक प्रकार के खान-पान रहन सहन और व्यंजनों के लिए ही जाना जाता...

1 min read

पर्वतीय क्षेत्रों में भंगीरा के बीजों का भी बड़ा ही उपयोग होता रहा है।Parilla frutescens लेटिन नाम की यह वनस्पति...

उत्तराखंड में औषधीय वृक्षों की कोई कमी नहीं है | औषधीय वृक्षों में एक नाम है भीमल, जिसके पेड़ काफी...

Copyright © 2019 AyushDarpan.Com | All rights reserved.